अगरबत्ती बनाने का व्यवसाय कैसे शुरू करें? How to start agarbatti manufacturing business process in Hindi

अगरबत्ती बनाने का व्यवसाय कैसे शुरू करें?



भारत में अगरबत्ती बनाने का व्यवसाय बहुत ही लाभदायक small business है, अगरबत्ती बनाने के व्यवसाय में बहुत कम लागत की जरूरत होती है जिसे आप कम निवेश के साथ शुरू कर सकते हैं। अगरबत्ती बनाने की प्रक्रिया बहुत ही सरल है जिसे machines का उपयोग करके बनाया जा सकता है। बहुत सारे मशीन निर्माता आपको market में मशीन उपलब्ध करा सकते हैं। यदि आप machines पर ज्यादा निवेश नहीं करना चाहते हैं, तो क्या आप अगरबत्ती बनाने का व्यवसाय शुरू कर सकते हैं या नहीं, इसका जवाब है, हां आप machines में बिना निवेश किए भी हस्तनिर्मित अगरबत्ती उत्पादन इकाई लगा सकते हैं इसमें आपको किसी भी तरह की विद्युत चलित मशीन की जरूरत नहीं होती है लेकिन यदि आप machines का उपयोग करते हैं तो मशीनें आपका कार्य आसान बनाते हैं और बहुत ही कम समय में उच्च गुणवत्ता वाली अगरबत्ती का उत्पादन करती है।

यदि आप अपना अगरबत्ती बनाने का business शुरू करना चाहते हैं, तो यह post आपके लिए उपयोगी साबित होगा। इस post के माध्यम से आप अगरबत्ती बनाने की प्रक्रिया और अगरबत्ती निर्माण में आवश्यक raw materials के बारे में जानेंगे। मैं आपको इस post के माध्यम से कुछ ऐसी जानकारी share करूंगा ,जिससे आप अगरबत्ती बनाने के business को सरल तरीके से कर सकते हैं इसके लिए नीचे एक sample दिया गया है जिसे आप अपने business शुरू करने वाली इकाई में अपना सकते हैं









अगरबत्ती  बनाने का business एक लाभदायक व्यवसाय है। कुछ छोटे उपकरण और machines के साथ, आप घर पर भी अगरबत्ती का business शुरू कर सकते हैं। यह एक पारंपरिक उत्पाद है और अगरबत्ती हर घर, मंदिर आदि में हमेशा उपयोग की जाती है, अगरबत्ती  बनाने का business भारत के पारंपरिक उद्योगों में से एक है।

अगरबत्ती बनाने के business का दायरा व्यक्तिगत उत्पादन और अगरबत्ती बनाने की capacity पर निर्भर करता है, अगरबत्ती की market की मांग हर समय अधिक होती है और festival के मौसम के दौरान अगरबत्ती की demand और बढ़ जाती है।

विदेशी मांग, अगरबत्ती बनाने के कारोबार को निर्यात-उन्मुख विनिर्माण उद्योग के रूप में बनाती है, अगरबत्ती बनाने का प्रारंभिक निवेश कम है शुरुआत में GST 12%  के दायरे में आता था, लेकिन अब यह 5 प्रतिशत है।


छोटे पैमाने पर अगरबत्ती बनाने  का process बहुत ही सरल है, और इसे विभिन्न तरीकों से किया जाता है। गाँवों में लोग अभी भी बिना machines का इस्तेमाल किए हाथों से अगरबत्ती बनाते हैं। चीन और वियतनाम के अगरबत्ती बनाने वाली machines ने भारत के market में अपना कब्जा कर लिया है और अगरबत्ती बनाने के नए तरीके ने गांव के हाथ से अगरबत्ती बनाने वाले तरीके को replace कर दिया है ।



अगरबत्ती बनाने में  निम्न चरण होते हैं:-


1.सर्वप्रथम अगरबत्ती के demand का सर्वेक्षण करें
2.अगरबत्ती बनाने के व्यवसाय के लिए लाइसेंस
3.अगरबत्ती बनाने की मशीन
4.कच्चा माल 
5.उचित स्थान का चयन और machine installation
6.Staffing और training
7.मिश्रण या मसाला तैयार करना
8.मिश्रण machine मे load करना
9.कच्ची अगरबत्ती प्राप्त करें
10.कच्ची अगरबत्ती को सुखाना
11.खुशबू  मिलाना
12.Packaging
13.Supply




1# सर्वप्रथम अगरबत्ती के demand का सर्वेक्षण करें

अगरबत्ती की demand भारत में बहुत अधिक है और लगभग सभी घरों में विभिन्न अवसरों पर अगरबत्ती का उपयोग किया जाता है। और छोटे producers भी अगरबत्ती बनाने के व्यवसाय में लाभ अर्जित कर रहे हैं छोटे पैमाने के producers मध्यम पैमाने के निर्माताओं को कच्चे अगरबत्ती की आपूर्ति कर रहे हैं और फिर वे कच्चे अगरबत्ती में खुशबू जोड़ रहे हैं ताकि उन्हें market में उच्च कीमत पर बेचा जा सके।

भारत में वक्त के साथ अगरबत्ती की demand बढ़ रही है, बांस की छड़ियों की मांग प्रति दिन 3000 टन से भी अधिक है, भारत में अगरबत्ती बनाने का व्यवसाय संगठित और असंगठित दोनों प्रकार की है संगठित में लगभग 50% है और असंगठित में भी लगभग 50% है संगठित क्षेत्र की प्रमुख कंपनियों में आईटीसी अंबिका जैसी कंपनियों का नाम प्रमुख है और unorganized sector में हाथों से अगरबत्ती का निर्माण करने वाले गांव का क्षेत्र आता है जहां पर लोग अपने हाथों से अगरबत्ती बनाते हैं


भारत में अगरबत्ती उद्योग लगभग 3,500 करोड़ का व्यापार market में हिस्सेदारी के रूप में बड़ा है और जो बांस के स्थानीय कच्चे माल पर  निर्भर है, अब उनके प्रमुख कच्चे माल का 65 % से अधिक आयात करने की आवश्यकता है





2# अगरबत्ती बनाने के व्यवसाय के लिए लाइसेंस


अगर आप सोच रहे हैं कि अगरबत्ती बनाने के business का licence कैसे प्राप्त करें, तो हमने यहां सभी जरुरी  business licences को सूचीबद्ध किया है, जो अगरबत्ती व्यवसाय शुरू करने के लिए आवश्यक है, अगरबत्ती बनाने के business licence की आवश्यकता अलग-अलग राज्यों के अनुसार अलग-अलग हो सकती है:-

कंपनी पंजीकरण: अपना अगरबत्ती बनाने का बिजनेस शुरू करने के लिए पहला कदम अपनी कंपनी को कंपनियों के प्रोपराइटरशिप या ROC रजिस्टर के रूप में पंजीकृत करना है

GST पंजीकरण: GST नियम प्रत्येक business के लिए अच्छी सेवाओं के लिए GST नंबर प्राप्त करना अनिवार्य है

EPF पंजीकरण: यह पंजीकरण केवल तभी आवश्यक है जब आपकी कंपनी में 20 से अधिक कर्मचारी कार्य कर रहे हो

ESI पंजीकरण: कर्मचारी राज्य बीमा की आवश्यकता होती है यदि आपके पास 10 से अधिक कर्मचारी हैं

TRADE लाइसेंस: आपको स्थानीय अधिकारियों से ट्रेड लाइसेंस के लिए आवेदन करना होगा

SSI पंजीकरण: एसएसआई इकाई होने के लिए एसएसआई पंजीकरण के लिए पंजीकरण करें ,यह अनिवार्य नहीं है

pollution प्रमाणपत्र: आपके उद्योग का निरीक्षण राज्य प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड द्वारा किया जाता है, वे आपको Business शुरू करने की अनुमति देते हैं

Factory लाइसेंस:  बड़े पैमाने पर विनिर्माण इकाइयों को फैक्ट्री लाइसेंस और एनओसी की आवश्यकता होती है।





3# अगरबत्ती  बनाने के लिए मशीनें:-


Machines आपके व्यवसाय की रीढ़ की हड्डी हैं। कई कंपनियां ऐसी हैं जो इन machines को बेचती हैं लेकिन आपको एक विश्वसनीय कंपनी का चयन करना होगा, जो shut down के मामले में सेवा प्रदान करती है। ये machines एक या एक महीने के लिए सुचारू रूप से काम करेंगी लेकिन इसके बाद इसे रखरखाव और सर्विसिंग की आवश्यकता होती है। अधिकांश अगरबत्ती machine आपूर्तिकर्ता गुजरात से हैं इसलिए आपको उनसे पूछना होगा कि वे आपके क्षेत्र में सेवा प्रदान करते हैं या नहीं? यदि वे आपके क्षेत्र में मरम्मत सेवा प्रदान नहीं करते हैं, तो उस machine को न खरीदें।बाजार में कई प्रकार की अगरबत्ती बनाने की machines मौजूद हैं जो मैनुअल अगरबत्ती बनाने की मशीन, स्वचालित अगरबत्ती बनाने की मशीन और उच्च गति वाली स्वचालित अगरबत्ती बनाने की मशीन हैं।

ब्रेक डाउन की स्थिति में service प्रदान करने के लिए बड़ी कंपनियों ने भारत के हर राज्य में अपनी dealership स्थापित की है। आपको अपने राज्य के dealer से मशीन खरीदना चाहिए , यदि आप अपने शहर में dealer से मशीनें खरीदेंगे और वह dealer आपातकाल के मामले में सेवा प्रदान करेगा। जिससे आपका production नहीं रुकेगा, machine खरीदने से पहले, सुनिश्चित करें कि उस विशेष कंपनी का dealer आपके शहर या आसपास के शहर में मौजूद है।

अगरबत्ती बनाने के लिए विभिन्न macines की आवश्यकता होती है जैसे कि मिश्रण मशीन, ड्रायर मशीन और मुख्य उत्पादन मशीनें। मिक्सचर मशीन कच्चे माल का पेस्ट बनाती है और फिर उस पेस्ट को बांस के डंडे में डालने के लिए production machine का उपयोग किया जाता है।


अगरबत्ती बनाने की मशीन की लागत इसकी speed और कुल production capacity पर निर्भर करती है। आम तौर पर, एक अच्छी मशीन की कीमत आपको लगभग 1,20,000 रुपये - 1,50,000 रुपये होगी। ये मशीनें 12 घंटे में लगभग 100 किग्रा कच्चे अगरबत्ती का उत्पादन करेंगी।

Manual अगरबत्ती बनाने की मशीन:



इस तरह के machine में उत्पादन लागत कम होती है और इसे संचालित करना आसान है, manual रूप से संचालित मशीनें एकल या दोहरे पैडल प्रकारों में उपलब्ध हैं। पेडल  के द्वारा इस प्रकार के machine को चलाया जा सकता है इसलिए इसमें किसी प्रकार की बिजली की आवश्यकता नहीं होती, जिससे उत्पादन की लागत कम हो जाती है। यह market में कम लागत पर उपलब्ध हो जाती हैं

Automatic अगरबत्ती बनाने की मशीन:

यदि आप अगरबत्ती उत्पादन के कुछ नवीनतम तरीकों के साथ जाना चाहते हैं और थोड़ा और निवेश कर सकते हैं तो आपके लिए बेहतर option automatic अगरबत्ती मशीन है  यह मशीन  1 मिनट में 160 से 200 अगरबत्ती का उत्पादन  करती है

आप इस मशीन का उपयोग करके चौकोर आकार की अगरबत्ती भी बना सकते हैं, automatic  अगरबत्ती बनाने की मशीन आपकी आवश्यकता के अनुसार एक आकर्षक पैटर्न, डिजाइन, आकार और आकार में उपलब्ध है।

high speed automatic अगरबत्ती बनाने की मशीन:



इस मशीन की लागत थोड़ी ज्यादा होती है ,high speed automaic  अगरबत्ती बनाने की मशीन, एक पूरी तरह से स्वचालित मशीन है जिसे कम मैनपावर की आवश्यकता होती है, हाई-स्पीड ऑटोमैटिक अगरबत्ती बनाने की मशीन की उत्पादन दर 300 से 450 प्रति मिनट होती है



सुखाने वाला यंत्र(dryer machine):



यदि environment में नमी है, तो आपको अपने कच्चे अगरबत्ती को सुखाने के लिए dryer machine  की आवश्यकता होगी, बरसात के मौसम में ड्रायर मशीन भी फायदेमंद है

पाउडर मिक्सर मशीन(powder mixer machine):



सभी पदार्थों के एक समान मिश्रण तैयार  करने के लिए, पाउडर मिक्सर की जरूरत होती है, सही मात्रा में mix करने के लिए आपको इसकी जरूरत पड़ सकती है, जिसके द्वारा आप सही मात्रा में सूखा या गीला powder mixer प्राप्त कर सकते हैं। यह मिश्रण को आपके machine की उत्पादन क्षमता के अनुसार ही बनाएगा। पाउडर मिक्सर मशीन की उत्पादन क्षमता 10 से 20 kg/min तक होती है




4#कच्ची सामग्री(raw material) -


अगरबत्ती व्यवसाय के लिए किन-किन कच्चे सामग्रियों(raw materials) की आवश्यकता होती है?


अगरबत्ती में जिन raw materials का उपयोग होता है वह है गोंद पाउडर , कोयला पाउडर , बांस की छड़ इत्यादि आपको अपने शहर में कच्चा माल आसानी से  मिल जाएगा, raw materials  खरीदने के लिए आपको किसी भी जगह पर जाने की आवश्यकता नहीं होगी।अगरबत्ती का आधार बांस है ,बांस की छड़ें जो अगरबत्ती बनाने में इस्तेमाल की जाती हैं, वे चीन और वियतनाम से आती हैं, और इसकी कीमत आपके लगभग 120 रुपये किलो होगी। कच्चे माल भारत के किसी भी हिस्से में आसानी से उपलब्ध हैं।

भारतीय बाजार में अगरबत्ती बनाने में प्रयोग की जाने वाला raw material आपको बहुत ही आसानी से और बहुत ही सस्ते दामों पर मिल जाएगा, इसके लिए आपको किसी कच्चे माल के आपूर्तिकर्ता की खोज करनी होगी



अगरबत्ती में उपयोग किए जाने वाले कच्चे माल:





  1. अगरबत्ती में सुगंध जोड़ने के लिए सुगंधित तत्व 
  2. बांस की छड़ें:  8 से 12 इंच  लंबी बांस की झाड़ियों की आवश्यकता होती है, यदि आप बाँस की छड़ें स्वयं निर्मित कर रहे हैं तो आपको बाँस की छड़ें बनाने के लिए raw material के रूप में कच्ची बाँस खरीदनी होंगी।
  3. पैकिंग सामग्री: पैकेजिंग सामग्री airtight होनी चाहिए ,जो सुगंध को lock करती है
  4. अगरबत्ती में अलग colour जोड़ने के लिए अलग-अलग colour की जरूरत पड़ती है




5# machine installation के लिए सही स्थान का चुनाव:-




यदि आप अपने शहर या आस-पास के शहर में डीलर से मशीनें खरीदेंगे। वह डीलर एक technician भेजेगा जो आपके स्थान पर machine install करेगा। आपको उस तकनीशियन का सारा खर्च देना होगा। वह installation charge के रूप में अतिरिक्त राशि भी वसूल करेगा। वह आपको मशीनों के संचालन और अगरबत्ती बनाने के तरीके के बारे में अतिरिक्त प्रशिक्षण भी देगा। वह कुछ दिनों तक आपके स्थान पर ही रुकेगा और फिर आपको machinary का संचालन करना होगा। आपातकाल के समय या मशीन के टूटने पर आपको उसी व्यक्ति / डीलर से फिर से संपर्क करना होगा।

आप अपने घर या किसी भी जगह से अगरबत्ती बनाने का business शुरू कर सकते हैं, इसके setup के लिए विशिष्ट क्षेत्र की आवश्यकता नहीं है, लेकिन यह सुनिश्चित करें कि कच्चा माल आपूर्तिकर्ता आपके work place के पास होना चाहिए, सर्वप्रथम यह आपको सुनिश्चित करना होगा कि कच्चा माल आपके शहर में आसपास ही available है

आप आसानी से 200 स्क्वायर फीट से कम में चार मशीनों को इंस्टॉल कर सकते हैं और यह मशीन हल्की होती हैं और इन्हें चलाना आसान होता है अगरबत्ती के सुचारू रूप से production के लिए आपको अच्छे कर्मचारियों का चुनाव करना होगा






6# स्टाफ रखना और प्रशिक्षण देना:-


आपको मशीनों को चलाने के लिए staff की जरूरत होगी जो आपकी मशीनों के सुचारू रूप से manage करने के लिए जिम्मेदार होंगे, लेकिन सर्वप्रथम आपको staff रखने के बाद उन्हें machine के बारे में training देना होगा ताकि वह machine को अच्छे से समझ कर उसे चलाना सीख जाएं यदि आपके पास एक से ज्यादा machine है तो आपको एक से ज्यादा staff रखना होगा आप प्रत्येक machine के लिए एक स्टाफ जरूर रखें ताकि आपका production समय पर बना रहे आपको अच्छे प्रोडक्शन के लिए अपने कर्मचारियों को machine के बारे में अच्छे से सिखाना और प्रशिक्षित करना होगा ताकि मशीन में कोई खराबी ना आए आपको प्रत्येक मशीन के लिए एक-एक कर्मचारी के साथ साथ अगरबत्ती मिश्रण बनाने, अगरबत्ती  को सुखाने और packing करने के लिए अतिरिक्त कर्मचारियों का चयन करना होगा

शुरुआती समय में आप एक machine से बहुत ज्यादा production नहीं ले पाएंगे क्योंकि आपके पास जो कर्मचारी रहेंगे वह बिल्कुल नए होंगे और उन्हें machine के बारे में अच्छे से सीखने और समझने के लिए कुछ वक्त लगेगा 1 महीने के अंदर आप एक मशीन से 100 किलोग्राम कच्चे अगरबत्ती का उत्पादन कर सकते हैं समय के साथ जब आप के कर्मचारी machine को अच्छे से चलाना सीख जाएंगे तब आपकी production और भी बढ़ जाएगी।

आपको कर्मचारी का चुनाव करते समय machine चलाने के लिए कर्मचारी रखने के अलावा और भी अन्य विभागों का ख्याल रखना होगा ताकि आप अधिक से अधिक मुनाफा कमा सकें, जैसे


  • अगरबत्ती बनाने का व्यवसाय विभाग
  • सैलरी  विभाग:- कर्मचारियों को सैलरी देने के लिए
  • कच्चा माल आपूर्तिकर्ता इकाई
  • मार्केटिंग विभाग
  • बांस की छड़ी आपूर्तिकर्ता इकाई 
  • मशीन मेंटेनेंस के लिए टेक्निकल स्टाफ
  • अगरबत्ती बनाने की इकाई
  • इत्र जोड़ने इकाई



7#मिश्रण या मसाला तैयार करना: -


Mixer तैयार करना अगरबत्ती बनाने के process में बहुत ही महत्वपूर्ण हिस्सा है, क्योंकि अगर आप का मिश्रण सही नहीं बना तो आपका अगरबत्ती अच्छे से नहीं जल पाएगी, जब आप किसी dealer से machine की खरीदारी करते हैं तब उस डीलर के टेक्नीशियन से या फिर डीलर से मिश्रण बनाने की पूरी प्रक्रिया को सीख लेनी चाहिए ताकि आपको बाद में कोई समस्या ना हो और आप अपने machine को सुचारू रूप से चला सके और production बना रहे


यदि आप  मसाला को अच्छे से नहीं बना पाते हैं तो आपके अगरबत्ती की quality कम हो जाएगी और यदि आपके द्वारा उत्पादित अगरबत्ती की quality अच्छी नहीं है तो कोई भी आपके द्वारा produce किए गए अगरबत्ती को नहीं खरीदेगा। इसीलिए आपको सारी प्रक्रिया अच्छे से सीख लेनी चाहिए और मिश्रण बनाने के लिए आपके पास अलग से कर्मचारी जरूर होने चाहिए।




8# मिक्सचर लोड करना -


जब आप का mixer तैयार हो जाए तब आपको उस मिश्रण को machine में load करना होगा, लोड करने के बाद आप अपना प्रोडक्शन शुरू कर सकते हैं और आपका कच्चा अगरबत्ती तैयार हो जाएगा आप एक मशीन से शुरुआती समय में 5 से 6 किलो तक अगरबत्ती का उत्पादन कर पाएंगे, फिर धीरे-धीरे आप 10 किलो प्रति घंटे के हिसाब से प्रोडक्शन कर  पाएंगे।






9# अगरबत्ती इकट्ठा करें -


अगरबत्ती production के बाद अगरबत्ती को इकट्ठा करने के लिए आपको अलग से employee को रखना होगा जो अगरबत्ती को एक साथ इकट्ठा करके एक जगह पर रखें और फिर अगरबत्ती को सुखाने के लिए ले जाए।




10#  अगरबत्ती को सुखाना-



अगरबत्ती को सुखाने के लिए आपको एक ड्रायर मशीन की जरूरत पड़ेगी जिसकी कीमत लगभग ₹40000 है ड्रायर मशीन से आप कच्ची अगरबत्ती को सुखा सकते हैं जब आप  कच्ची अगरबत्ती का निर्माण करते हैं तो अगरबत्ती गीली होती है उसे आप धूप में भी सुखा सकते हैं यदि आपकी निर्माण इकाई बड़ी है तो आप ड्रायर मशीन का भी उपयोग कर सकते हैं अक्सर मानसून और सर्दियों के दिनों में आपके लिए dryer machine आवश्यक हो जाता है







11#  सुगंध जोड़ना


अगरबत्ती के production में यह एक अलग शाखा है बहुत सारे कच्चे अगरबत्ती के producers अपने द्वारा बनाए गए अगरबत्ती में इत्र या सुगंध नहीं डालते हैं  वे  perfume बनाने वाली बड़ी componies को कच्चा अगरबत्ती  बेच देते हैं,  यदि आप सुगंध या इत्र नहीं जोड़ना चाहते हैं तब आप कच्चा अगरबत्ती को सीधे बड़े perfume industries को बेच सकते हैं और उनके द्वारा आपको अच्छा खासा लाभ, margine के साथ आसानी से उपलब्ध हो जाता है और यदि आप अपने अगरबत्ती में सुगंध जोड़ना चाहते हैं तो आप सुगंध जोड़ कर भी अगरबत्ती को  sell  कर सकते हैं,  आप अपने खुद का brand भी बना सकते है।




12# Packaging:-


अगरबत्ती बनने के बाद सबसे महत्वपूर्ण उसका packaging है,कच्चे अगरबत्ती पैकिंग के लिए आपको जूट के बैग की आवश्यकता होगी। अपने सुगंधित अगरबत्ती की पैकिंग के लिए आपको अपने brand नाम के साथ उच्च गुणवत्ता की packing की आवश्यकता होगी।अगरबत्ती निर्माण प्रक्रिया के लिए packing बहुत महत्वपूर्ण कार्य है।

आपको packaging को आकर्षक बनाना चाहिए ताकि आपके अगरबत्ती को लोग ज्यादा से ज्यादा पसंद करें, आप अन्य उपयोगकर्ताओं के अनुकूल जानकारी के साथ उस पर अपने ब्रांड नाम को print करके अपने brand को बढ़ावा देने के लिए पैकेजिंग बैग का उपयोग कर सकते हैं, आप पैकेजिंग बॉक्स का उपयोग पैकेजिंग उद्देश्य के लिए कर सकते हैं ताकि आप ग्राहकों को आकर्षित कर सकें।



13# supply:-


अगरबत्ती कैसे बेचनी है?



आपको अपने द्वारा बनाए हुए अगरबत्ती के लिए marketing करना होगा हम आपको कुछ ऐसी रणनीति बताने जा रहे हैं जो आपको अगरबत्ती के marketing में आपकी मदद करेगी,  जब आप अगरबत्ती बना लेते हैं तब वह कच्ची होती है और कच्ची अगरबत्ती को market में बेचना बहुत ही मुश्किल होता है इसीलिए आपके लिए अच्छा यही होगा कि आप कच्ची अगरबत्ती को किसी ऐसे industry को बेचें जहां पर अगरबत्ती को सुगंधित बनाया जाता है आपको अगरबत्ती सुगंधित करने वाले industry में कच्ची अगरबत्ती को supply करना चाहिए यदि आप कच्ची अगरबत्ती बना रहे हैं तो इसे किसी  perfume industry  को supply कर दीजिए, खुशबू जोड़ने वाले उद्योग कच्चे माल में इत्र जोड़ते हैं और फिर से ग्राहकों को सप्लाई कर देते हैं


ऑनलाइन बिक्री:



आप अपने अगरबत्ती की बिक्री online भी कर सकते हैं आज के बाजार में online बिक्री बहुत आसान हो गया है और online बाजार का दायरा बहुत बड़ा है आपको अपने अगरबत्ती को online बेचने के लिए कुछ photos और विवरणों की आवश्यकता होगी तभी आपकी अगरबत्ती के बारे में लोगों को पता चलेगा आप अगरबत्ती का फोटो और  विवरण दिखा कर आसानी से advertise कर सकते हैं आप चाहे तो यदि आपका बिजनेस बड़ा हो जाए तो खुद की वेबसाइट भी बना सकते हैं और आप खुद का ब्रांड नाम भी बना सकते हैं


स्थानिय दुकाने:





आप local market में अपनी अगरबत्ती बेच सकते हैं; आप local market विक्रेता को मुफ्त अगरबत्ती नमूना पेश कर सकते हैं,और उन्हें बताएं कि आप ग्राहकों को अपने  अगरबत्ती के brand का परिचय दें। यदि ग्राहक आपके अगरबत्ती को पसंद करते हैं तो वे स्वयं ही अगरबत्ती की तलाश करते हैं जो आपने उत्पादित की थी।



अगरबत्ती बनाने में मुनाफा



अगरबत्ती बनाना बहुत ही लाभदायक व्यवसाय है और आप 1 मशीन से प्रतिदिन लाभ के रूप में आसानी से 500 - 700 रुपये कमा सकते हैं। लेकिन 1 मशीन महीने के अंत में आपकी अच्छी आय देती है, आपको कुछ अच्छे रिटर्न देखने के लिए न्यूनतम 3 या 4 मशीनों से शुरुआत करनी होगी। कच्चा अगरबत्ती आपको 10 रुपये / किलो का लाभ देगा। दूसरी ओर, सुगंधित अगरबत्ती आपको अधिक लाभ प्रदान करेगी यानी 25 रुपये - 30 रुपये प्रति किलोग्राम। यह आपकी ब्रांडिंग और मार्केटिंग रणनीति पर निर्भर करता है।


यदि आप अगरबत्ती manufacturing business को शुरू करना चाहते हैं तो सबसे पहले आपको निकटतम के किसी अगरबत्ती निर्माण इकाई में जाना चाहिए और वहां थोड़ी सी जानकारी लेनी चाहिए इस business के लिए आपको एक अच्छे employee management की आवश्यकता होती है आपको कर्मचारियों को मासिक अथवा दैनिक आधार पर भुगतान करने की आवश्यकता भी पड़ सकती है ।


Note:- यह केवल आपकी जानकारी के लिए है business start करने से पहले कृपया अच्छे से research जरूर कर लीजिए।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ